Inclusive Media 2012-13 Fellows

Rashmi Kumari Sharma

Project proposal:

झारखंड के ग्रामीण इलाकों की प्रमुख समस्या मानव तस्करी, पलायन एवं वि‍स्थासपन के कारण और नि‍वारण रांची जि‍ला, खूंटी जि‍ला व सि‍मडेगा जि‍ले का अध्यरयन झारखंड के सामने एक प्रमुख समस्याख के मानव तस्कमरी और पलायन रोकने की है साथ ही वि‍स्था्पन की समस्या से जूझ रहे कि‍सानों और ग्रामीणों के पुर्नवास सुवि‍धा भी उपलब्ध कराना है। राजधानी रांची और आसपास के ग्रामीण क्षेत्र कांके, मांडर, नामकुम, सुकूरहुटू, हेहल, इरबा एवं पास के जि‍ले, जैसे- सिमडेगा, खूंटी, गुमला आदि जगहों से भारी मात्रा में पलायन हो रहा है। इसके अलावा झारखंड के ग्रामीण क्षेत्रों से छोटी-छोटी लड़कि‍यों को काम दि‍लाने के नाम पर देश के बड़े शहरों में ले जाया जा रहा है जहां उनका मानसि‍क और शारीरि‍क शोषण भी हो रहा है। एक अनुमान के मुताबिक प्रति‍वर्ष 30 हजार लड़कि‍यां ट्रैफि‍कि्ंग की शि‍कार होती हैं जि‍नमें से कुछ वर्षों के बाद शोषि‍त होकर लौट आती हैं और अधि‍कांश का कोई पता नहीं चलता। इस पलायन के कारणों के जड़ तक पहुंचना ही इस शोध-प्रस्ताव का उद्देश्य है।

Fieldwork:

रांची जि‍ला, खूंटी जि‍ला व सि‍मडेगा जि‍ले का अध्‍ययन

Babulal Naga

Project proposal:

राजस्थान के बारां जिले के किशनगंज और शाहाबाद में कुपोषण और भुखमरी की स्थिति

Fieldwork:

बारां जिले के किशनगंज और शाहाबाद

Manisha Bhalla

Project proposal:

विषय- पश्चिमी उत्तरप्रदेश, हरियाणा और पंजाब में खाप-पंचायतें- ऑनरकीलिंग के संदर्भ में पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा या पंजाब में इज्जत की खातिर लड़के-लड़कियों के कत्ल की खबरें सुनने को मिलती रहती हैं। महिलाओं के खिलाफ ऐसा माहौल पनपाने के लिए जिम्मेदार हैं खाप और जातीय पंचायतें। लड़कियों की यौन आजादी पर काबू करने के लिए ये पंचायतें किसी भी स्तर तक जा सकती हैं। अपने मूल रूप में ये खाप पंचायतें पूरी तरह से अलोकतांत्रिक और समाज के खिलाफ हैं। ये लोग देश के कानून या संविधान को भी मान्यता नहीं देते हैं। चूंकि इन्हें बाकायदा राजनीतिक संरक्षण हासिल है इसलिए कानून भी इनके आगे लाचार है। यह सारा माहौल एक स्वस्थ ग्रामीण सामाजिक विकास में बड़ी बाधा तो है ही साथ ही आने वाले समय के लिए बड़ा खतरा भी है।

Fieldwork:

Various districts of Haryana including Rohtak, Jhhajjar, Jind, Sonipat, Hissar, Sirsa etc. Bagpat, Ghaziabad, Muzaffarnagar, Saharanpur, Bulandshahar Meerut etc. in Uttar Pradesh. Fatehgarhgarh Saheb, Patiala etc. in Punjab.

Shankar Bhatia

Project proposal:

मध्य हिमालय (उत्तराखंड) की ग्रामीण अर्थव्यवस्था

Fieldwork:

रुद्रप्रयाग जिले के वर्सू गांव एवं केदार घाटी
चमोली जिले के नौटी, गैरसैंण, जोशीमठ के ग्रामीण क्षेत्र
उत्तरकाशी जिले के गंगा एवं यमुना घाटी क्षेत्र
पिथौरागढ़ जिले के बेरीनाग, चैकोड़ी, धारचूला, मुंस्यारी क्षेत्र
हिमाचल प्रदेश के जुब्बल घाटी एवं रणसार वैली का भ्रमण एवं प्रवास.



Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later