आंधी-पानी से बिहार में एक महिला समेत चार लोगों की मौत, फसलों की हुई भारी क्षति

राजधानी समेत राज्य भर में रविवार की देर रात आये आंधी-पानी से फसलों को भारी नुकसान हुआ है. वहीं, पटना में एक, छपरा में दो और दरभंगा में एक की मौत हो गयी. बताया जाता है कि आंधी-पानी से आम की फसलों को काफी नुकसान हुआ है. इस संबंध में किसानों का कहना है कि रविवार की आधी रात का आये आंधी-पानी में करीब 30-40 फीसदी आम को नुकसान पहुंचा है. साथ ही कहा कि अब इन आमों का प्रयोग अचार डालने के काम में लाया जा सकता है. प्रदेश में देर रात आये आंधी और तूफान से छपरा में दो तथा पटना में एक व्यक्ति की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरी संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने मृतकों के परिजनों को अविलंब अनुग्रह अनुदान उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है. आंधी-तूफान से राज्य भर में कई जगहों पर बिजली की आधारभूत संरचनाओं को भी नुकसान पहुंचा है, जिसे पुनर्स्थापित कर लिया गया है.


जानकारी के मुताबिक, राजधानी पटना में रविवार की आधी रात मौसम ने करवट ली. तेज आंधी और तूफान आने से पटना के दीघा स्थित यदुवंशी नगर में दीवार गिरने से एक युवक की मौत हो गयी, जबकि अन्य लोग घायल हो गये. वहीं, युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया गया है. वहीं, दरभंगा जिले के कुशेश्वरस्थान पूर्वी प्रखंड के रामपुर राउत गांव निवासी कैलाश पासवान के 30 वर्षीय पुत्र धर्मेंद्र पासवान की वज्रपात से मौत हो गयी. स्थानीय उच्च विद्यालय के खेल मैदान में रखे मकई के दाने को बारिश से बचाने के लिए वह सुबह 3.30 बजे घर से निकला था. स्कूल परिसर में पहुंचते ही वज्रपात से धर्मेंद्र की मौत हो गयी.


इसके अलावा छपरा में रविवार की रात आयी तेज आंधी-तूफान ने वृद्ध एक महिला समेत दो लोगों की जान ले ली. तूफान का कहर झोपड़ी मे सोई वृद्ध महिला के ऊपर इस कदर बरपा कि उसे भागकर जान बचाने का मौका भी नहीं मिला. वृद्ध महिला की झोपड़ी पर आम का विशाल पेड़ गिर पड़ा, जिससे वृद्धा की मौके पर ही मौत हो गयी. वहीं, झोपड़ी मे सो रहे महिला की बहू और बेटे घटना में जख्मी हो गये हैं. घटना के बाद परिवार के बचे सदस्य भागकर पास स्थित एक पक्के मकान में शरण लेकर अपनी जान बचायी.

मामला मुफस्सिल थाना क्षेत्र के छपरा-पटना मुख्यमार्ग लालबाजार स्थित अवधपुरा गांव के समीप की है. मृतका अवधपुरा गांव निवासी स्व महानंद सिह की 55 वर्षीया पत्नी कांति देवी बतायी जाती है, जो 10 साल पूर्व पति के मरने के बाद से अपने दो बेटे लव और कुश कुमार को साथ लेकर छपरा-पटना मुख्यमार्ग स्थित अवधपुरा अपने गांव के समीप सड़क किनारे एक झोपड़ी मे जैसे-तैसे वर्षों से गुजारा करती आ रही थी. घटना की सूचना मिलने पर मौके पह पहुंचे सदर सीओ विजय कुमार सिंह ने वृद्धा के आश्रितों के लिए सरकार की ओर से हर संभव सहायता का आश्वासन दिया. वहीं, मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस द्वारा वृद्धा के शव को निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए छपरा सदर अस्पताल भेज दिया गया है.


https://www.prabhatkhabar.com/news/patna/hurricanes-storms-death-weather-warnings-thunderstorms-bihar/1156937.html

Related Articles

 

Write Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later