बिहार: क्या पुलिस ने फ़र्ज़ी मामला बनाकर पत्रकार रूपेश को गिरफ़्तार किया?

बीते छह जून को बिहार की गया पुलिस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तीन नक्सलियों को जिलेटिन की छड़ और इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर के साथ गिरफ़्तार करने का दावा किया.

अगली सुबह बिहार के हिंदी अखबारों में ‘हथियार के साथ नक्सली गिरफ्तार' शीर्षक से खबर छपी. ये खबर इप्सा शताक्षी के पास पहुंची, तो वह सदमे में आ गईं. पुलिस ने जिन नक्सलियों को हथियार संग गिरफ्तार करने का दावा किया, उनमें से एक उनके पति पत्रकार रूपेश कुमार सिंह भी हैं.

पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि रूपेश कुमार सिंह, मिथिलेश सिंह समेत तीन लोगों को गया के डोभी से नेशनल हाईवे नंबर दो से गिरफ्तार किया गया.

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करने वाले गया के सहायक पुलिस सुप्रिटेंडेंट (नक्सल अभियान) नवीन कुमार सिंह और डीएसपी रवीश कुमार ने दावा किया कि तीनों झारखंड के हजारीबाग से हथियारों की खेप गया के डुमरिया इलाके के छकरबंधा ला रहे थे, जहां नक्सलियों को इसकी सप्लाई होनी थी.

डोभी थाने के एसएचओ राहुल रंजन की तरफ से थाने में दिए गए बयान के आधार पर तीनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है. बयान में राहुल रंजन ने मौके पर किसी स्वतंत्र साक्षी के नहीं होने का जिक्र करते हुए खुद को और सशस्त्र बल के एक जवान को प्रत्यक्षदर्शी बनाया है.

बयान में लिखा गया है कि उनकी गाड़ी से 15 बंडल इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर, 32 जिलेटिन छड़ मिले. बयान में आगे लिखा गया है कि इसके अलावा लिफाफे में कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) केंद्रीय कमेटी लिखा हुआ प्रेस वक्तव्य और नक्सली साहित्य जिसमें देशविरोधी बातें लिखी गई हैं, बरामद की गईं.

पुलिस का दावा है कि रूपेश ने यह स्वीकार किया है कि वह प्रतिबंधित नक्सली संगठन ईआरबी सीसी टेक में एसएसी के पद पर हैं और इस पद पर उनकी नियुक्ति पिछले साल मई में हुई थी.

तीनों पर भारतीय दंड विधि की धारा 414/120 (बी), आर्म्स एक्ट की धारा 3 व 4 तथा यूएपीए की धारा 10/13/18/20/38 और 39 लगाई गई है.

पुलिस के इन दावों को रूपेश की पत्नी इप्सा शताक्षी न केवल खारिज करती हैं बल्कि रूपेश से जेल में मुलाकात और उनसे बातचीत के हवाले से वह पुलिस की कार्रवाई में गहरा षड्यंत्र देख रही हैं.

द वायर हिन्दी पर प्रकाशित इस कथा को विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 


http://thewirehindi.com/85315/arrest-of-freelance-journalist-rupesh-kumar-singh-in-alleged-naxal-connection/

Related Articles

 

Write Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later