खोज परिणाम

Total Matching Records found : 3989

बयान / मेधा पाटकर ने कहा- एक व्यक्ति के लिए सरदार सरोवर बांध जल्दी भरा गया, 192 गांव जलमग्न हुए

गया। इस कारण मध्यप्रदेश के तीन जिले धार, बड़वानी और अलीराजपुर के लगभग 192 गांव जलमग्न हो गए। दरअसल, पाटकर का इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर था। उन्होंने कहा कि गुजरात

कुछ और »

बाधाएं बहुत, पर आगे बढ़े हैं लोग-- श्रीनाथ राघवन

ंदिरा गांधी ने कहा था, ‘हम नए कश्मीर का निर्माण करेंगे, यदि आप सहयोग करें, तो जल्दी, यदि सहयोग न करें, तो धीरे-धीरे, लेकिन हम निर्माण करेंगे जरूर।' वास्तव में, इस राज्य में महत्व

कुछ और »

छत्तीसगढ़: भारी विरोध के बीच परसा कोयला खदान को पर्यावरण मंत्रालय की मंजूरी

ले ही मंत्रालय की वेबसाइट पर अपलोड किया गया. इस फैसले से भारत में वन संरक्षण, जल स्रोत और वन्य प्राणियों के लिए दूरगामी परिणाम हो सकते हैं. छत्तीसगढ़ के परसा में घने हसदेव अ

कुछ और »

कहां ले जाएगी जल की अनदेखी -- रामचंद्र गुहा

िरोध के बारे में पढ़ रहा था। मेरे शहर बेंगलुरु की जरूरतें एक समय उसकी झीलों, जलाशयों के नेटवर्क से बहुत हद तक पूरी हो जाती थीं, लेकिन जब यह बड़ा नगर बन गया, आबादी कई गुना बढ़ गई, तो

कुछ और »

पानी के बहाव का आपदा बन जाना-- दिनेश मिश्र

1903 से लेकर अब तक कई सिंचाई आयोग या बाढ़ आयोग देश व राज्य स्तर पर गठित हुए, लेकिन जल-निकासी को वह महत्व कभी नहीं मिला, जो उसे मिलना चाहिए। बीसवीं शताब्दी के प्रारंभ में बंगाल रा

कुछ और »

पानी साफ करने के इंतजाम के अभाव में नदियां हो रहीं दूषित, कई राज्यों की स्थिति चिंताजनक

नई दिल्ली: जलशोधन यानी कि पानी को साफ करने के पर्याप्त इंतजामों के अभाव में देश में न केवल नदियों, तालाबों और जलाशयों का पानी जहर बनता जा रहा है बल्कि खेती में

कुछ और »

बिहार-असम में बाढ़ से 166 और उत्तर प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से 34 लोगों की मौत

र्मियों को लगाया गया है तथा 125 मोटरबोट का इस्तेमाल किया जा रहा है. केंद्रीय जल आयोग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार की कई नदियां बूढ़ी गंडक, बागमती, अधवारा समूह, कमला बला

कुछ और »

यमुना के बिना दिल्ली का अस्तित्व नहीं बचेगा: एनजीटी अध्यक्ष

ि शामिल होने चाहिए.' अधिकरण ने हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, डीडीए, दिल्ली जल बोर्ड, दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति और संबंधित नगर निगमों को अपनी टिप्पणियां दो सप्ताह में स

कुछ और »

ऑस्ट्रेलिया: अडानी खनन परियोजना के ख़िलाफ़ हो रहे प्रदर्शन को कवर करने गए कई पत्रकार गिरफ़्तार

पर्यावरणविदों ने इस जगह को लेकर चेतावनी दी है कि यहां खनन होने से वैश्विक जलवायु पर विपरित असर होगा और इसके अलावा खनन से यहां की अतिसंवेदनशील प्रजातियों को भी खतरा है. फ

कुछ और »

जानें क्यों जंगलों में बीज बम फेंक रहे हैं ये युवा-- त्रिलोचन भट्ट

है। इसमें मिट्टी और गोबर को पानी के साथ मिलाकर एक गोला बना दिया है और स्थानीय जलवायु और मौसम के अनुसार उस गोले में कुछ बीज डाल दिये जाते हैं। इस बम को जंगल में कहीं भी अनुकूल स्

कुछ और »

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later