खोज परिणाम

Total Matching Records found : 476

एससी/एसटी छात्रों की शिक्षा के लिए बजट में कटौतीः दलित एवं आदिवासी अधिकार समूह

नई दिल्लीः दलित एवं आदिवासी अधिकार समूहों का कहना है कि अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) के छात्रों की माध्यमिक और उच्च शिक्षा के लिए बजट 2019 में कटौती की गई है. इं

कुछ और »

जाति के समीकरण का टूटना- मनीषा प्रियम

जातिगत समीकरण के आधार पर इस जोड़ी के पास अपराजेय वोट है। मुस्लिम-यादव और जाटव दलितों का गठजोड़ राजग पर भारी पड़ेगा। लेकिन परिणाम आते-आते यह साफ हो गया कि महागठबंधन के हिस्से में

कुछ और »

रूढ़िवादिता और संवैधानिक सुधार-- आकार पटेल

च्छेद 17 के द्वारा कांग्रेस ने छुआछूत को खत्म किया था. पूरे 1920 के दशक में हिंदू दलितों के मंदिर में प्रवेश को आक्रामक हिंसा से रोकने की कोशिश कर रहे थे. इसी तरह की रूढ़िवादिता ने

कुछ और »

गुजरात: शादी में दलित युवक के घोड़ी पर चढ़ने पर पूरे समुदाय का बहिष्कार, सरपंच गिरफ़्तार

मेहसाणा: गुजरात के मेहसाणा जिले के एक गांव में दलित व्यक्ति के अपनी शादी में घोड़ी पर बैठने का खामियाजा पूरे समुदाय को भुगतना पड़ा है. पूरे गांव ने अनुसूचित जाति (एससी) समुदाय

कुछ और »

राजस्थान: पति के सामने दलित महिला के साथ गैंगरेप, पुलिस पर चुनाव के चलते मामले को दबाने का आरोप

थान के अलवर ज़िले के थानागाजी थाना क्षेत्र में अपने पति के साथ बाइक पर जा रही दलित समुदाय की महिला के साथ पति के सामने ही पांच लोगों ने कथित तौर पर बलात्कार कर घटना का वीडियो सो

कुछ और »

उत्तराखंडः सवर्ण जाति के लोगों के सामने खाना खाने पर दलित की हत्या

ं सवर्ण जाति के कुछ लोगों ने शादी समारोह में कुर्सी पर बैठकर खाना खाने पर एक दलित युवक की कथित तौर पर बेरहमी से पिटाई की, जिसकी उसकी मौत हो गई. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के म

कुछ और »

मध्य प्रदेश: दलित युवक की हिरासत में मौत, थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मी निलंबित

ामले में थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. इस दलित युवक के परिजनों ने पुलिस की क्रूरतापूर्ण पिटाई से उसकी मौत हो जाने का आरोप लगाया है. पुलिस अ

कुछ और »

जिस गांव को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोद लिया था क्या वह ‘आदर्श’ बन पाया?

. गांव में एक भी मुस्लिम परिवार नहीं है. यहां पटेल, ब्राह्मण, भूमिहार, कुम्हार, दलित आदि जातियों के साथ रहते हैं. द वायर हिन्दी पर प्रकाशित इस कथा को विस्तार से पढ़ने के लिए य

कुछ और »

नमक से पहले पानी: आंबेडकर का महाड़ मार्च बनाम गांधी का दांडी मार्च-- सिद्धार्थ

या. सबसे पहले डॉ. आंबेडकर ने अंजुली से पानी पीया; उनका अनुकरण करते हुए हजारों दलितों ने पानी पीया. अगस्त 1923 को बॉम्बे लेजिस्लेटिव काउंसिल ( अंग्रेजों के नेतृत्व वाली समिति) के द

कुछ और »

दलित विमर्श का हाशिए पर जाना-- बद्रीनारायण

स बार के संसदीय चुनाव में दलित विमर्श हाशिए पर जाता दिख रहा है। एक तो राजनीतिक दलों के घोषणापत्रों में दलित समाज को वंचित श्रेणी में रखकर महिलाओं और अन्य वंच

कुछ और »

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later