खोज परिणाम

Total Matching Records found : 77

मिड-डे मील खाने से तीन साल में 900 से अधिक बच्चे बीमार हुए: केंद्र

नई दिल्ली: देशभर में तीन साल के दौरान मध्याह्न भोजन (मिड-डे मील) खाने से 900 से अधिक बच्चों के बीमार होने के मामले सामने आए हैं. मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जान

कुछ और »

मिड डे मील की रैंकिंग में वैशाली नंबर वन, 25वें स्थान पर पटना

पटना : शिक्षा विभाग के अंतर्गत मध्याह्न भोजन योजना निदेशालय ने मिड डे मील को लेकर फरवरी में जिलों के प्रदर्शन के आधार पर उनकी रैंकिंग जारी की है. इसमें पहले नंबर पर वैशाली जि

कुछ और »

पोषण और अंडे का संघर्ष- ज्यां द्रेज

लिए आजकल एक छोटी सी खुशी की बात यह है कि कई राज्यों में स्कूल और आंगनवाड़ी में मध्याह्न भोजन के साथ अंडा दिया जा रहा है. तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों में स्कूल के बच्च

कुछ और »

भूख से मौत और उसके बाद-- ज्यां द्रेज

साल कम-से-कम छह योजनाओं के लिए योग्य था- जन-वितरण प्रणाली, विधवा पेंशन, नरेगा, मध्याह्न भोजन, मातृत्व लाभ और आंगबाड़ी कार्यक्रम, लेकिन मध्याह्न भोजन को छोड़कर

कुछ और »

पीएम के गृहनगर में दलित ने की 'आत्महत्या'

गुजरात में वडनगर क्षेत्र के शेखपुर गांव में एक प्राथमिक स्कूल में मध्याह्न भोजन योजना (मिड डे मील) के प्रबंधक के रूप में काम करने वाले एक दलित व्यक्ति ने कथित रूप से आत्महत्या

कुछ और »

मिड डे मील पर रोजाना मात्र 6 से 9 रुपए प्रति छात्र खर्च करती है सरकार

मध्याह्न भोजन योजना के माध्यम से 10 करोड़ छात्रों को जोड़ने और कक्षा में छात्रों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के तमाम दावों के बीच ऐसे सवाल उठ रहे हैं कि क्या प्रति छात्र प्रतिदिन

कुछ और »

प्राथमिक शिक्षा की दुश्वारियां-- सुधीर कुमार

ा हाथ बंटाते। साठ लाख बच्चे आज भी स्कूली शिक्षा से महरूम हैं। आलम यह है कि ‘मध्याह्न भोजन योजना', छात्रवृत्ति तथा मुफ्त पाठ्य-पुस्तकों के वितरण की व्यवस्था भी सरकारी स्कूल

कुछ और »

मध्य प्रदेश: मिड डे मील के नाम पर रोटी-नमक और पीने को गंदा पानी

ओं के आभाव का एक मामला सामने आया है. छतरपुर स्थित गांव सूरजपुरा में बच्चों को मध्याह्न भोजन के नाम पर सिर्फ रोटी और नमक ही दिया जा रहा है. एक ओर सरकार स्वच्छता को लेकर कसीदे पढ

कुछ और »

वनांचल के कई स्कूलों में ताला तो कहीं मध्याह्न भोजन के बाद छुट्टी

चिल्फीघाटी। प्रदेश भर में शिक्षाकर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाने से पिछले 3 दिनों से वनांचल की शिक्षा व्यवस्था चरमरा गई है। कहीं स्कूल बंद है तो कहीं समूह द्वारा मध्यान्ह भोजन कर

कुछ और »

निजता के अधिकार पर प्रहार-- रीतिका खेड़ा

ीमारी को रोकने के बजाय और फैलाने की कोशिशों में लगी है. अब उसकी मंशा है कि इसे मध्याह्न भोजन, स्कॉलरशिप, इत्यादि में लागू कर दिया जाये. मध्याह्न भोजन में कहीं

कुछ और »

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later