खोज परिणाम

Total Matching Records found : 610

क्या सचमुच सरकार ने किसानों को फसल की लागत का ड्योढ़ा मूल्य दिया है?

कदी या फिर वस्तु-रुप में चुकायी गई कीमत जैसे कि खाद, बीज, कीटनाशक, मजदूर, मशीन, सिंचाई आदि की खरीद के भुगतान के क्रम हुए खर्च को जोड़ा जाता है. साथ ही, अगर जमीन पट्टे पर ली हुई है ज

कुछ और »

कहां ले जाएगी जल की अनदेखी -- रामचंद्र गुहा

कावेरी और शारावती, दोनों ही बेहद खूबसूरत नदियां हैं। इंसानों ने पहले उन्हें सिंचाई और घरों को रोशन करने के लिए बांधा और अब वे इनसे पानी हड़पकर अपने नल, बगीचे भरना चाहते हैं, अपन

कुछ और »

पानी के बहाव का आपदा बन जाना-- दिनेश मिश्र

सम्यक अध्ययन हुआ हो, जिसके आधार पर कोई कार्रवाई हुई हो। सन् 1903 से लेकर अब तक कई सिंचाई आयोग या बाढ़ आयोग देश व राज्य स्तर पर गठित हुए, लेकिन जल-निकासी को वह महत्व कभी नहीं मिला, जो उ

कुछ और »

हरियाणा के 11 गांवों के लिए ‘राक्षस’ बना पानी, लोग इच्छा मृत्यु को तैयार

ं लगता है कि जहरीला पानी तो वैसे भी उन्हें मार रहा है और सरकार उन्हें पीने और सिंचाई के लिए साफ पानी देना नहीं चाहती.   इसके लिए वो अर्धनग्न विरोध से लेकर सिर तक मुंड़वा चु

कुछ और »

किसानों की आय बढ़ाने के लिए धान की फसल के हर हिस्से की मूल्यवृद्धि की ज़रूरत: स्वामीनाथन

उपज लागत का कम-से-कम डेढ़ गुना दिए जाने का एक प्रमुख प्रावधान है. इसके अलावा सिंचाई क्षेत्र में निवेश, कृषि संबंधी ढांचागत सुविधा में निवेश में बढ़ोतरी, सूक्ष्म पोषक तत्वों

कुछ और »

आर्थिक संकट की गहराई- अरुण कुमार

करने से रोजगार संकट का भी हल निकलेगा। लिहाजा, जरूरी है कि शिक्षा, स्वास्थ्य, सिंचाई, गांवों की सड़क, ग्रामीण इन्फ्रास्ट्रक्चर आदि पर खासतौर से निवेश बढ़ाए जाएं। ग्रामीण अर्थव

कुछ और »

अगली सरकार की बड़ी चुनौतियां -- अनिल गुप्ता

ें पेयजल की समस्या और बढ़ने की आशंका है, लेकिन इससे पूरी तरह बचा भी जा सकता है। सिंचाई संसाधनों की कमी की शिकायत किसान पहले से ही करते रहे हैं। विनिर्माण सूचकांक पहले से ही कम ह

कुछ और »

बढ़ते तापमान में मानसून की राहत- महेश पलावत

ूंकि भारत की करीब 58 फीसदी आबादी अब भी अपनी आजीविका के लिए खेती पर निर्भर है और सिंचाई का प्रमुख साधन मानसूनी बारिश है, इसलिए इस भविष्यवाणी से यह आकलन किया जाता है कि खरीफ की फसल

कुछ और »

प्रति बूंद अधिक फसल योजना : दिन भर चले अढ़ाई कोस!

नहीं- वह पांच..सात..दस कुछ भी हो सकता है. बात विचित्र लगती हो प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत चलाये जा रहे ‘प्रति बूंद अधिक फसल' के आंकड़ों पर गौर कीजिए.   प्रधानमं

कुछ और »

खेती फायदेमंद तभी किसान खुशहाल-- मोंटेक सिंह अहलूवालिया

है, खासतौर से उन 60 फीसदी खेतों में, जो बारिश पर निर्भर हैं। राज्य सरकारें बड़ी सिंचाई योजनाओं पर अधिक जोर देती हैं, जिनमें भारी संसाधन खर्च होता है, मगर उनका फायदा जमीन के छोटे ह

कुछ और »

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later