खोज परिणाम

Total Matching Records found : 253

सेहत के मानकों पर देश के सबसे पिछड़े 50 जिलों में एक है मुजफ्फरपुर !

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में अगर कोई बच्चा साफ-सफाई की कमी से होने वाली ‘डायरिया' जैसी आम बीमारी से पीड़ित हो तो इस बात की कितनी संभावना है उसे प्राथमिक उपचार के तौर पर जीवन-रक्षक घोल(ओआरएस) म

कुछ और »

आर्थिक संकट की गहराई- अरुण कुमार

र तैयार की जाती है, जो जांचने का सही तरीका नहीं है। असंगठित क्षेत्र की बिगड़ती सेहत के कारण पिछले तीन वर्षों से ‘वास्तविक' विकास दर कहीं नीचे है। इसे इस तरह समझा जा सकता है कि 45

कुछ और »

जॉनसन एंड जॉनसन बेबी शैम्पू में घातक रसायन, कंपनी को अपना उत्पाद बाज़ार से वापस लेने का आदेश

शैम्पू में कोई घातक तत्व नहीं है. यह पूरी तरह से सुरक्षित है और इनसे बच्चे की सेहत पर किसी तरह का नुकसान नहीं होगा. कंपनी का कहना है कि हाल ही में राजस्थान की एक सरकारी प्रयोग

कुछ और »

बढ़ते तापमान में मानसून की राहत- महेश पलावत

चेहरों, खासतौर से अन्नदाताओं को उदास कर जाती है। सुखद है कि इस साल मानसून की सेहत ज्यादा बुरी नहीं दिख रही। भले ही जून-जुलाई में कम बारिश होने के कारण सिंचाई का काम देर से शुरू

कुछ और »

राजनीतिक एजेंडे में पर्यावरण क्यों नहीं-- नवरोज के दुबाश

, दूषित जल और ठोस कचरे का उचित निपटारा न होना देश के नागरिकों, खासकर बच्चों की सेहत को प्रभावित कर रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट बताती है कि भारत में पांच वर्ष की उ

कुछ और »

मोदी का आरक्षण दांव और विपक्ष -- शशिशेखर

ों पर ध्यान दिया। इसकी एवज में समाज की निचली सीढ़ियों पर बैठे लोगों की शिक्षा, सेहत और खुशहाली को दरकिनार कर दिया गया। हम एक ऐसी अर्थव्यवस्था बनाने में नाकाम रहे, जो लोगों को आर

कुछ और »

तमिलनाडु के तूतीकोरिन स्थित वेदांता समूह की स्टरलाइट कॉपर प्लांट को बंद कराने को लेकर हुए प्रदर्शन में 13 लोगों की पुलिस गोलीबारी में मौत हो गई थी.

्रदर्शन कर रहे थे. स्थानीय लोगों का कहना था कि इस फैक्ट्री के प्रदूषण के कारण सेहत से जुड़ी गंभीर समस्याओं का संकट खड़ा हो गया है. जबकि इस कंपनी ने उस वक्त शहर में अपनी और यूनिट

कुछ और »

ऐसे तो नहीं खत्म होगा प्रदूषण- प्रार्थना बोराह

ानव स्वास्थ्य और पर्यावरण को बचाने के लिए उठाता है। इसमें सबसे पहले वायु की सेहत, प्रदूषण के स्रोत, कार्बन उत्सर्जन की फेहरिस्त, वायु गुणवत्ता निगरानी उपकरण जैसे सभी पहलुओं

कुछ और »

ताकि वे अपनी पसंद से खरीदें अनाज- कार्तिक मुरलीधरन

, अन्य अनाजों या उत्पादों को स्टॉक करने की अनुमति देकर पीडीएस डीलर की आर्थिक सेहत भी सुधारी जा सकती है, ताकि उनके लिए कमाई का एकमात्र जरिया पीडीएस न रहे।   बहरहाल, अनाज के

कुछ और »

किसान आंदोलन का नया स्वरूप- मणीन्द्र नाथ ठाकुर

ापस नहीं मिलने पर उसे बट्टे खाते में डाल देती है. कर्ज नहीं लौटाने पर भी उनकी सेहत पर कोई खास असर नहीं होता है. लेकिन, किसानों को कर्ज ज्यादा ब्याज दर के साथ मिलता है. इस बात क

कुछ और »

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later