सवाल आंकड़ों को समझने का (Source: NewsPlatform.in)

  

Published On: 1 September, 2018 | Duration: 24 min, 20 sec

  

देश में इस वक्त आंकड़ों की साख पर विवाद छिड़ा हुआ है। सरकार जो आंकड़े देती है, बहुत से लोग उस पर यकीन नहीं करते। वे दूसरे आंकड़ों के आधार पर एक अलग कहानी पेश करते हैं। इससे अर्थव्यवस्था और उससे जुड़े हालात की असलियत को लेकर भ्रम पैदा हुआ है। तो आखिर हक़ीकत क्या है? खुशहाली बढ़ रही है या देश बदहाल हो रहा है? इन अहम सवालों पर राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग के पूर्व अध्यक्ष और International Growth Centre के Country Director प्रोफ़ेसर प्रणब सेन से एक खास बातचीत।

 

Anchor: Satyendra Ranjan 

 

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later