खबरदार

खबरदार

Share this article Share this article

सांख्यिकी एंव कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय द्वारा प्रस्तुत सार्क-इंडिया कंट्री रिपोर्ट 2015: स्टैस्टिस्टिकल अप्रेजल नामक दस्तावेज के अनुसार--

 

http://www.im4change.org/docs/94376SAARC_India_Country_Report_2015.pdf

 

•  साल 2006-07 से 2011-12 के बीच भारत में उर्बरक का उपयोग 23 प्रतिशत बढ़ा है. साल 2000-2001 में प्रति हैक्टेयर उर्वरक का उपयोग 89.63 किलोग्राम था जो साल 2012-13 में बढ़कर 128.34 किलोग्राम प्रतिहैक्टेयर हो गया. 

 

•  भारत में जल-प्रदूषण एक गंभीर समस्या है. भारत में 75-80 प्रतिशत सतहवर्ती भूजल-संसाधन तथा भूमिगत जल-संसाधन का बड़ा हिस्सा जैविक, कार्बनिक, अकार्बनिक तथा रासायनिक संदूषकों से दूषित है. 

 

•  शहरी विकास मंत्रालय की एक रिपोर्ट(2010) में कहा गया है कि भारत में 1 लाख मीट्रिक टन कचरे का उत्सर्जन होता है.

 

• साल 2004-05 में केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने महानगरों समेत 59 शहरों के सर्वेक्षण के आधार पर पाया कि इन शहरों में प्रतिदिन 39,031 टन म्युनिस्पल सॉलिड वेस्ट उत्सर्जित होता है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने 2010-11 के अपने सर्वेक्षण में पाया कि इन्हीं 59 शहरों में प्रतिदिन म्युनिस्पल सॉलिड वेस्ट का उत्सर्जन बढ़कर 50,592 टन हो गया है. 

 

•  प्रदेशों के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा प्राप्त सूचनाओं के अनुसार साल 2011-12 में प्रतिदिन देश में 1.27 लाख टन कचरा उत्सर्जित हो रहा था. इसमें सत्तर प्रतिशत कचरा ही एकत्र किया जा रहा था जबकि 12 प्रतिशत अपशिष्ट को शोधित किया जा रहा था. 

 

•  देश में म्युनिस्पल इलाके में प्रतिदिन 1.34 लाख मीट्रिक टन सॉलिड वेस्ट उत्सर्जित होता है इसमें एकत्र हो पाता है मात्र 91,152 टन प्रतिदिन और शोधित होता है प्रतिदिन 25,884 टन. 

 

• देश में कुल वनाच्छादन का दायरा 6.98 लाख वर्ग किलोमीटर का है. अति सघन वनक्षेत्र 83,502 वर्ग किलोमीटर (2.54 प्रतिशत) है जबकि सघन वनक्षेत्र 3.19 लाख वर्ग किलोमीटर(9.70 प्रतिशत) में फैला है और साधारण वनक्षेत्र 2.96 लाख वर्ग किलोमीटर(8.99प्रतिशत) में.

 

•  वर्ष 1988 की वननीति में कहा गया है कि देश के पर्वतीय इलाके के दो तिहाई हिस्से में वन-क्षेत्र और वृक्षाच्छादन का विकास किया जायेगा. भारत में पर्वतीय जिलों में वनाच्छादन 2.81 लाख वर्गकिलोमीटर में है जो इन जिलों का 39.75 हिस्सा है.



Rural Expert
 

Write Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later

Contact Form

Please enter security code
      Close