यूपी में गन्ना किसानों का 8447 करोड़ रुपये बकाया, नए सीजन की कड़वी शुरूआत

Share this article Share this article
published Published on Oct 12, 2020   modified Modified on Oct 12, 2020

-आउटलुक,

अक्टूबर से गन्ने का 2020-21 का नया सीजन शुरू हो गया है। लेकिन उत्तर प्रदेश में किसानों का बकाया खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। 30 सितंबर 2021 तक यूपी की मिलों पर गन्ना किसानों का करीब 8447 करोड़ रुपये बकाया है। किसानों ने 2019-20 में जो गन्ना चीनी मिलों को बेचा था, उसका अभी तक पूरा भुगतान नहीं हो पाया है। पिछले सीजन में अक्टूबर से सितंबर के दौरान प्रदेश की चीनी मिलों ने 1118 लाख टन गन्ने की पेराई की थी। राज्य सरकार द्वारा तय की गई कीमत (एसएपी) 315-325 रुपये क्विंटल के आधार पर चीनी मिलों ने करीब 35898 करोड़ रुपये की गन्ना खरीद किसानों से की थी। लेकिन उन्होंने अभी तक किसानों के केवल 27451.05 करोड़ रुपये का ही भुगतान किया है। अहम बात यह है कि चीनी मिलों पर किसानों का बकाया घटने की जगह बढ़ गया है। पिछले सीजन में 4941.83 करोड़ रुपये का बकाया था। खास बात यह है कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार बार-बार गन्ना किसानों के बकाए को जल्द से जल्द देने की बात दोहराती रहती है।

निजी मिलों पर 90 फीसदी से ज्यादा बकाया

 मिली जानकारी के अनुसार 8448 करोड़ रुपये में से 90 फीसदी से ज्यादा रकम निजी मिलों पर बकाया है। निजी चीनी मिलों पर 7707 करोड़ रुपये का बकाया है।

पूरी रपट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.  


आउटलुक, https://www.outlookhindi.com/agriculture/agri-trade/cane-arrear-reaches-eight-thousand-five-hundred-crores-in-uttarpradesh-51903


Related Articles

 

Write Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later

Contact Form

Please enter security code
      Close