SEARCH RESULT

Total Matching Records found : 74

स्त्री-पुरुष भिन्न हैं, विपरीत नहीं- सुजाता

और एक दिन हमने पाया कि दुनिया दो टोलों में बंट गयी है. फिल्म पीके की भाषा में कहें, तो एक हमारा गोला और एक तुम्हारा गोला. हम अपने-अपने टोले में कहीं खड़े एक-दूसरे की तरफ हाथ बढ़ाते हैं, लेकिन यहां आकर दो लोगों के बीच की दूरी दुनिया की सबसे लंबी और सबसे देर में तय की जानेवाली दूरी हो जाती है. ये दो टोले थे स्त्री और...

More »

संसद में स्त्री होने के मायने- सुजाता

एक मर्दाना संसद में एक स्त्री की एेतिहासिक, नाटकीय, भावुक हुंकार से देश कुछ वक्त सकते में आ गया. संसद में मौजूद नये-पुराने खिलाड़ियों को यह दांव स्तब्ध कर गया और जनता को अभिभूत. माननीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी की इस बाजी से खेल पलटा तो नहीं, तथ्यात्मक गलतियां भी बाद में सामने आयीं. लेकिन, संसद में स्त्री राजनेता के व्यवहार को लेकर जेहन में बहुत सारे सवाल जरूर उठे....

More »

दस साल बाद भी प्रबंधन वाले पदों पर कम ही होंगी महिलाएं

मुंबई। भारत ही नहीं, दुनिया भर में श्रमशक्ति में महिलाओं की हिस्सेदारी बेहद कम है। अगर महिलाओं की भागीदारी मौजूदा दर से बढ़ी तो अगले दस साल बाद भी पेशेवर और प्रबंधन वाले पदों पर बमुश्किल 40 फीसद ही पहुंच पाएगी। ग्लोबल एचआर कंसल्टेंसी फर्म मर्सर की ताजा रिपोर्ट में यह निष्कर्ष निकाला गया है। रिपोर्ट का एक खास निष्कर्ष यह भी है कि संगठनों के भीतर करियर लेवल बढ़ने...

More »

धर्म, समाज और स्त्री-- सुभाष गताडे

परंपरा की दुहाई देते हुए या आस्था की बात करते हुए क्या समाज के एक हिस्से के साथ प्रगट भेदभाव किया जा सकता है? यह मसला महिलाओं के प्रार्थना-स्थल तक या उसके सबसे ‘पवित्र हिस्से' तक पहुंचने के बहाने उठता रहा है। अभी ज्यादा दिन नहीं बीते, जब महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले का शनि शिंगनापुर मंदिर हंगामे की वजह बना। पुणे के एक सामाजिक संगठन की महिलाओं ने वहां पहुंच...

More »

'मैं ट्रांसजेंडर हूं, तो वे किसी भी तरह से बर्ताव कर सकते हैं'

नई दिल्‍ली। एक ट्रांसजेंडर अपने दोस्‍त के साथ पार्टी से लौट रही थी। कुछ लोग उसे छूना चाहते थे, बात करना चाहते थे इसका विरोध करने पर उन्‍होंने हमला कर दिया। पढ़‍िए उस ट्रांसजेंडर की कहानी, उसी की जुबानी। बीती रात को मैं अपने दोस्‍तों के साथ डिनर करके अपने ब्‍वॉयफ्रेंड के साथ लौट रही थी। कुछ लोगों ने हमारे ऊपर हमला कर दिया और वे हिंसक सिर्फ इसलिए हो गए...

More »

Video Archives

Archives

share on Facebook
Twitter
RSS
Feedback
Read Later

Contact Form

Please enter security code
      Close